सपा एमएलसी वासुदेव यादव ने प्रयागराज में एम्स की मांग को लेकर राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को लिखा पत्र .सोशल मीडिया पर भी उठा मुद्दा

सपा एमएलसी वासुदेव यादव ने प्रयागराज में एम्स की मांग को लेकर राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को लिखा पत्र .सोशल मीडिया पर भी उठा मुद्दा

प्रयागराज. कोरोना महामारी ने जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश में ही नहीं समूचे भारत में तबाही मचा रखी है. उसने कही ना कहीं लच्चर स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोल दी है. कोरोना महामारी ने हमारे स्वास्थ्य सिस्टम को अत्याधुनिक मेडिकल संसाधनों से लैस करने की सीख दी है. इसी को लेकर उतर प्रदेश के प्रयागराज में एम्स जैसे संस्थान की मांग शुरू हो गई है.

कोरोना काल मे महामारी ने यहाँ के जनमानस को झकझोर दिया है. कोरोंना महामारी इलाज का कोई समुचित प्रबन्ध व व्यवस्था न होने के कारण भी अधिक मौतें हुई हैं ऐसे में अगर प्रयागराज मे एम्स की स्थापना हो जाए तो प्रयागराज सहित आस पास के कई ज़िलों को इसका लाभ मिल सकता है।

सपा एमएलसी बासुदेव यादव ने  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी को पत्र लिखकर प्रयागराज मे  एम्स स्थापित करने की मांग की है.

पत्र के माध्यम से संवाद करते हुए सपा एमएलसी ने विश्व मे प्रयागराज मे कुम्भ मेले के आयोजन और धार्मिक,आध्यात्मिक, शैक्षणिक,सांस्कृतिक नगर के रुप में विख्यात इस माटी की महत्ता का ज़िक्र करते हुए लिखा की इस माटी ने उच्चकोटि के राजनीतिक, शिक्षाविद, न्यायविद, तथा प्रशासनिक अधिकारी देश सेवा मे दिए हैं।प्रदेश तथा देश की सरकार यहाँ पर आयोजित होने वाले सबसे बड़े धार्मिक आयोजन महाकुम्भ मे सहयोग करके अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान खींचती है।कुम्भ के दौरान गंगा जमुना व अदृश्य सरसवती के संगम की रेती पर विश्व का सबसे बड़ा शहर बस जाता है। इसी को मद्देनजर रखते हुए प्रयागराज में उच्च स्वास्थ्य संस्थान की आवश्यकता है.

बासुदेव यादव  ने यह बताया कि हण्डिया मे ग्राम सभा की १६३ एकड़ ज़मीन पर प्रस्ताव तैयार करके तत्कालीन कमिश्नर श्री देवेश चतुर्वेदी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी प्रयागराज के प्रस्ताव से शासन को स्वीकृति हेतु भेजा जा चुका है। लेकिन अभी तक उस प्रस्ताव व परियोजना पर कोई कार्यवाही नहीं की जा सकी.

वहीं वरिष्ठ समाजसेवी व हाईकोर्ट अधिवक्ता रामचंद्र यादव बताते हैं कि अगर प्रयागराज में एम्स होता तो प्रयागराज के आसपास जिलों के लोगों को कोरोना महामारी में इतनी दिक्कत ना उठानी पड़ती. इससे पूर्वांचल व मिर्जापुर के आस पास जिलों को काफी लाभ मिलेगा.
रामचंद्र यादव पिछले कई सालों से #प्रयागराज_मांगे_ एम्स जैसी मुहिम को सोशल मीडिया व प्रशासन के माध्यम से मांग उठा चुके हैं.

वहीं सपा प्रवक्ता व नेत्री निधि यादव ने भी प्रयागराज में एम्स की मांग का पुरजोर समर्थन किया. निधि ने कहा कि प्रयागराज में एम्स स्थापित होने पर प्रयागराज वासियों व आसपास के जिलों के लोगों के लिए यह एक संजीवनी बूटी की तरह साबित होगी.

क्योंकि आम जनमानस के लिए उचित स्वास्थ्य शिक्षा व्यवस्था अति आवश्यक है.

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *