लाचार प्रेम ! कोरोना पीड़ित पति को नहीं मिला ऑक्सिजन तो मुंह से सांस देती हॉस्पिटल लाई बेबस पत्‍नी, फिर भी नहीं बच पाई जान

लाचार प्रेम ! कोरोना पीड़ित पति को नहीं मिला ऑक्सिजन तो मुंह से सांस देती हॉस्पिटल लाई बेबस पत्‍नी, फिर भी नहीं बच पाई जान

प्रेम के प्रतीक ताजमहल के शहर से कोरोना काल में दिल झकझोर देने वाली सामने आई तस्वीर.

आगरा . कोरोना काल में आगरा से दिल झकझोर देने वाली एक तस्‍वीर आई है .एक महिला की ऑक्सिजन न मिलने की स्थिति पर पत्‍नी ने पति को मुंह से सांस देने की कोशिश की फिर भागी – 2 अस्‍पताल पहुंचते कोरोना पीड़ित पति के मौत हो गई .पत्नी के आंसू रोकने का नाम नहीं ले रहे .

आगरा के अस्पतालों में ऑक्सिजन की किल्लत के बीच दिल को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई है। शुक्रवार को कई अस्पतालों में भटकने के बाद दोपहर बाद एक महिला अपने कोविड संक्रमित पति को ऑटो में लेकर एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंची। पति सांस लेने के लिए तड़प रहा था। ऑक्सिजन कहीं थी नहीं तो पत्नी अपने मुंह से पति को जीवन की सांसें देने की कोशिश करती रही। लेकिन लाख जतन के बाद भी वह पति की जान नहीं बचा पाई।

आवास विकास सेक्टर-सात निवासी रवि सिंघल (47 वर्ष) की तबीयत खराब हो गई। उन्‍हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी। इस पर पत्नी रेनू सिंघल परिजनों के साथ रवि को लेकर श्रीराम हॉस्पिटल, साकेत हॉस्पिटल और केजी नर्सिंग होम पहुंचीं। बेड खाली न होने से मरीज को कहीं भर्ती नहीं किया गया। आखिरकार रेनू ऑटो में बीमार पति को लेकर एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंचीं। रास्ते में वह पति को बार-बार मुंह से सांस देने का प्रयास कर रही थी। एसएन मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने देखने के बाद मृत घोषित कर दिया। पति की मौत के बाद रेनू के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे थे. वही उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कहती है कि प्रदेश में स्थिति नॉर्मल है . पर जमीनी हक़ीक़त कुछ और बयां करते हैं.

 

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *