कोरिया जिले में सौंफ की खेती को बढ़ावा

कोरिया जिले में सौंफ की खेती को बढ़ावा

  • राज्य के उत्तरी पहाड़ी इलाके सौंफ की खेती के लिए उपयुक्त

रायपुर. छत्तीसगढ़ राज्य के कोरिया जिले में कृषि विज्ञान केन्द्र के मार्गदर्शन में सौंफ की खेती को तेजी से बढ़ावा मिल रहा है। अनुकूल मौसम एवं पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक सौंफ की लाभदायक खेती के लिए किसानों को निरंतर मार्गदर्शन एवं प्रोत्साहन दे रहे हैं। कृषि वैज्ञानिकों ने मसाला फसलों की खेती विशेषकर सौंफ की खेती के लिए राज्य के उत्तरी पहाड़ी इलाके की जलवायु एवं मिट्टी को अनुकूल पाया है। कोरिया जिले में कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रक्षेत्र एवं गौठान ग्रामों में सौंफ की खेती को बढ़ावा दिए जाने का प्रयास किया जा रहा है। जिला प्रशासन कोरिया के सहयोग से यहां डिस्टिलेशन यूनिट भी लगाई गई है जिससे सौंफ का तेल भी निकाला जा रहा है।

कृषि विज्ञान केन्द्र कोरिया के वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री आर.एस. राजपूत बताते हैं कि कोरिया जिले में सौंफ उत्पादन हेतु सौंफ की उन्नत किस्म अजमेर सौंफ 2 का रोपण किया गया। किस्म अजमेर सौंफ 2 का विकास राष्ट्रीय बीज मसाला अनुसन्धान केंद्र अजमेर द्वारा किया गया है। अजमेर सौंफ 2 का पौधा बड़ा व शाखा युक्त होता है तथा बड़े आकार के पुष्प छत्रक होते है। अजमेर सौंफ 2 किस्म 180-190 दिन में पक कर तैयार हो जाती है। अजमेर सौंफ 2 किस्म की रोग प्रतिरोधकता क्षमता भी अधिक होती है। एक एकड़ क्षेत्रफल से औसतन 6-7 क्विंटल उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है। इस तरह प्रति एकड़ लगभग 60-70 हजार रूपए की आय प्राप्त कर सकते है। सौंफ की खेती में औसतन 26-28 हजार रूपए की लागत प्रति एकड़ आती है। इस तरह कुल शुद्ध आमदनी 34-42 हजार रूपए प्राप्त की जा सकती है।

सौंफ के बीज के क्षत्रक तोड़ने के बाद पुरे पौधे को काटकर 50 प्रतिशत नमी की स्थिति में सूखी पत्तियों व टहनियों से सौंफ का सगंध तेल प्राप्त किया जा सकता है। उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार सौंफ के बीज में 2 प्रतिशत, पत्तियों में 0.01 प्रतिशत व सूखी टहनियों में 0.22 प्रतिशत तक सगंध तेल पाया जाता है। सगंध तेल निष्कासन की अधिक मात्रा के लिए 50 प्रतिशत सूखी पत्तियां व टहनिया व 50 प्रतिशत हरी पत्तियां व टहनिया का प्रयोग किया जा सकता है। 100 किलोग्राम हर्ब्स से 200 से 220 ग्राम सगंध तेल प्राप्त किया जा सकता है। एक एकड़ क्षेत्रफल से करीब 500 से 600 किलोग्राम हर्ब्स प्राप्त होता है। इस तरह एक एकड़ से 1.0 से 1.2 किलो सौंफ का सगंध तेल निकाला जा सकता है। बाजार में विपणन हेतु सौंफ के सगंध तेल की कीमत लगभग 3-5 हजार रुपये प्रति किलोग्राम है।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *