डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि सरकार वेंटीलेटर पर है। हां ! हां !! ऐसा ही है !!!- रुचिर गर्ग

डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि सरकार वेंटीलेटर पर है। हां ! हां !! ऐसा ही है !!!- रुचिर गर्ग

डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि सरकार वेंटीलेटर पर है।
हां ! हां !! ऐसा ही है !!!
लेकिन कौन सी सरकार ?
हां,वो सरकार वेंटीलेटर पर है जो इस तबाही में भी मुनाफाखोरों और जमाखोरों के साथ है !
हां, वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसने आम लोगों का पैसा उस वैक्सीन कंपनी को दे दिया जो अब उसी पैसे से इसी देश में वैक्सीन का धंधा कर रही है !क्योंकि जनता के द्वारा चुनी गई सरकार धंधेबाजों के हक में काम कर रही है। इसलिए जनता के लिए तो यह सरकार वेंटीलेटर पर ही है !
हां , वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसके रहते एक मुनाफाखोर हिंदुस्तानियों को दुनिया में सबसे महंगी वैक्सीन बेच रहा है,वो भी एहसान जता कर !
हां, वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसने अपने देश की जरूरत के समय ऑक्सीजन का निर्यात किया! बांग्लादेश को सबसे ज्यादा सप्लाई की । क्या इसलिए कि बंगाल में चुनाव थे?
हां , वो सरकार वेंटीलेटर पर ही है जिसके रहते इस देश का नागरिक ऑक्सीजन और दवाओं के अभाव में दम तोड रहा है !
हां, सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि देश के मरघटों में चिताओं की लाइन लगी हुई है !
हां,सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि उसे अब भी जलती चिताओं की आंच महसूस नहीं हो रही है !
हां, सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि निकम्मों ने कुर्सी हथियाई हुई है !
हां, सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि विदेशी मीडिया ने उसकी सांस नली खींच कर रख डाली है…क्योंकि इस देश के इतिहास में पहली बार किसी सरकार का आपराधिक निकम्मापन दुनिया में हमारी पहचान बन रहा है !
हां,वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसे जनता की जरूरतें और देश की प्राथमिकताएं नहीं मालूम !
हां, तब अचानक लॉक डाउन की घोषणा कर देने वाली सरकार को आज सूझ नहीं रहा है कि करे तो क्या करे ,क्योंकि वो सरकार तो वेंटीलेटर पर है!
हां,सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि उसके दबाव में सिसक रहीं लोकतांत्रिक संस्थाओं को हाई कोर्ट्स लताड़ रहीं हैं !
हां,वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसे ऑक्सीजन कहीं से ,सिलेंडर कहीं से ,दवाएं कहीं से बुलवानी पड़ रहीं हैं ,सिर्फ इसलिए क्योंकि उसने समय रहते देश में इनका इंतजाम नहीं किया!
हां ,वो सरकार वेंटीलेटर पर है जिसने आत्मनिर्भर देश की रीढ़ तोड़ दी है !
हां, हां ,सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि उसने देश का पूरा सिस्टम ध्वस्त कर दिया है !
हां,सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि लगने लगा है कि उसकी बदौलत ही ये देश बनाना रिपब्लिक हो गया है !
हां, हां , देश की सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि इस देश के एक प्रदेश में खुद को योगी कहने वाला एक मुख्यमंत्री ऑक्सीजन मांगने पर संपत्ति जब्त कर लेता है !
हां, सरकार वेंटीलेटर पर है क्योंकि इस देश के प्रधानमंत्री इस भयावह काल में भी मन की बात करते हैं ,जन की बात नहीं !
हां, सरकार वेंटीलेटर पर है ! तभी तो इस देश के प्रधानमंत्री में मीडिया का सामना करने का हौसला नहीं है! मीडिया का – आम चूस मीडिया का नहीं !
डॉक्टर रमन सिंह या श्री धर्मलाल कौशिक से उम्मीद है कि कम से कम वेंटीलेटर पर पड़ी केंद्र की मोदी सरकार से इतना तो पूछ ही लेते कि वैक्सीन कब आयेगी भाई ?
प्रधानमंत्री एक फोन कॉल पर ही तो हैं न ! पूछिए उनसे कि क्या इस देश की जनता मुफ्त वैक्सीन की हकदार नहीं है ?
पूछिए वैंटीलटर पर पड़ी देश की सरकार से कि जनता का पैसा जनता को ऑक्सीजन देने में खर्च होना चाहिए या उद्योगपतियों को देने में ?
इतना तो पूछ ही लीजिए प्रधानमंत्री जी से कि देश को लोकतंत्र की साफ ऑक्सीजन चाहिए या बीस हजार करोड़ का सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट ?
पूछिए ना कि इस देश को नए अस्पताल चाहिए ,ऑक्सीजन चाहिए,दवाएं चाहिए या बीस हजार करोड़ का नया संसद प्रोजेक्ट चाहिए?
रमन सिंह जी लोकतंत्र का गला ऐसा घोंट दिया गया है कि फेसबुक ट्विटर अमरीका के राष्ट्रपति को तो ब्लॉक कर सकते हैं पर हिंदुस्तान में #resignmodi हैशटैग को चलने तक नहीं देते !
ऐसा तभी होता है जब कोई लोकतान्त्रिक सरकार वेंटीलेटर पर हो !!
– रुचिर गर्ग
मीडिया सलाहकार , मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ |
Photo: Google
शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *